शनिवार, 31 जुलाई 2021

रूठने और मनाने की तस्वीरें !!


 











एक मुस्कराहट 

आज फिर 

तुम्हारे नाम की 

सजी है मेरे लबों पर

कुछ शैतानियों के

आज फ़िर पकड़े हैं कान,

कुछ बूंदे बरसीं हैं

खामोशी से

तेरी यादों की,

मन ही मन 

बना रही हूँ कोलाज़

रूठने और मनाने की 

तस्वीरें लगाकर ..

इन लम्हों को 

मित्रता दिवस की

मुबारकबाद जो देनी है !!!

...

© सीमा 'सदा'

#मित्रता_दिवस



1 टिप्पणी:

ब्लॉग आर्काइव

मेरे बारे में

मेरी फ़ोटो
मन को छू लें वो शब्‍द अच्‍छे लगते हैं, उन शब्‍दों के भाव जोड़ देते हैं अंजान होने के बाद भी एक दूसरे को सदा के लिए .....