बुधवार, 14 सितंबर 2011

हिन्‍दी दिवस के नाम पर ...!!!











कहती
है जब हिन्‍दी
अपनी व्‍यथा
इन शब्‍दों में
मैं मातृ भाषा
गौरव से ऊंचा
मेरा मस्‍तक किया
राष्‍ट्र भाषा का
दर्जा दिया ...
14 सितम्‍बर को
मेरा सम्‍मान करना
मुझको वर्ष में
पूरा एक दिन
समर्पित करना
मेरे नाम पर
पूरे पखवाड़े
हिन्‍दी दिवस के नाम पर
सरकारी कार्यालयों में
साहित्यिक कार्यक्रम करना
शोभा बन जाती मैं
बड़े-बड़े बैनरों की ...
यह दिवस विशेष होता
जैसे कोई उत्‍सव हो विदाई का ...!
कोई
कविताओं में मुझे
जीवित रखता
आलेखों में जिक्र करता
मेरे जीवन क्रम का
मैं मौन
पृष्‍ठों पर अंकित वर्णों में
खोजती अपना अस्तित्‍व
फिर फाइलों में
कैद होकर
सहेजकर रख दी जाती
अलमारियों में
एक वर्ष की लम्‍बी
प्रतीक्षा के लिए ...!!
बीते जाएंगे पल ये
फिर हिन्‍दी दिवस आएगा
वर्ष बदला जाएगा
और मां सरस्‍वती को
माल्‍यार्पण कर
हिन्‍दी पखवाड़े का
आयोजन किया जाएगा ..... !!!

27 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत सही।

    हिन्दी दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ।

    सादर

    उत्तर देंहटाएं
  2. हिंदी दिवस पर
    बहुत ही रोचक और विश्लेष्णात्मक पोस्ट
    हिन्दी दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ।
    *************************
    जय हिंद जय हिंदी राष्ट्र भाषा

    उत्तर देंहटाएं
  3. हिंद की शान है हिन्दी, मेरा अभिमान है हिन्दी
    देश हो, विदेश हो, हमारा स्वाभिमान है हिन्दी !

    उत्तर देंहटाएं
  4. हिन्दी दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ.

    उत्तर देंहटाएं
  5. हिंदी है सदा के लिए ...हिन्दी दिवस की शुभकामनाएँ.

    उत्तर देंहटाएं
  6. हिंदी दिवस का अर्थ है - पूरे पखवाड़े पूरी खिलवा रे.
    आशावादिता रहनी चाहिए. राजभाषा के रूप में अभी पिछड़ी हुई ज़रूर है लेकिन हिंदी हमारी राष्ट्रभाषा सदियों से है.

    उत्तर देंहटाएं
  7. हिंदी की लंबी प्रतीक्षा को खत्म करना होगा ... रोज ही हिंदी दिवस मनाना होगा ...

    उत्तर देंहटाएं
  8. हिन्दी है आन हमारी,शान हमारी
    हिन्दी है हमको जान से प्यारी....
    हिन्द देश के सभी निवासियो को हिन्दी दिवस की बहुत बहुत बधाई...शुभकामनाएँ....बहुत ही रोचक और विश्लेष्णात्मक पोस्ट

    उत्तर देंहटाएं
  9. हिन्दी हमारी भाषा, है हमारा जीवन-प्राण|
    इतना सीचें हम इसे, होने न दें निष्प्राण||

    हिन्दी दिवस की बहुत बहुत बधाई...शुभकामनाएँ

    उत्तर देंहटाएं
  10. ज़बरदस्त..........कड़वे सच को व्यंग्य में उजागर किया है ..........बहुत खूब|

    उत्तर देंहटाएं
  11. हिन्दी दिवस की बहुत बहुत बधाई........

    उत्तर देंहटाएं
  12. हिंदी की जय बोल |
    मन की गांठे खोल ||

    विश्व-हाट में शीघ्र-
    बाजे बम-बम ढोल |

    सरस-सरलतम-मधुरिम
    जैसे चाहे तोल |

    जो भी सीखे हिंदी-
    घूमे वो भू-गोल |

    उन्नति गर चाहे बन्दा-
    ले जाये बिन मोल ||

    हिंदी की जय बोल |
    हिंदी की जय बोल

    उत्तर देंहटाएं
  13. निज भाषा उन्नति अहै, सब उन्नति को मूल।
    बिन निज भाषा ज्ञान के, मिटत न हिय को शूल।।
    --
    हिन्दी दिवस की बहुत-बहुत शुभकामनाएँ!

    उत्तर देंहटाएं
  14. सार्थक प्रस्तुति .....हिंदी दिवस की शुभकामनाएँ

    उत्तर देंहटाएं
  15. संवेदनशील अभिव्यक्ति...
    हिंदी दिवस की आपको भी हार्दिक शुभकामनायें !

    उत्तर देंहटाएं
  16. सदा की ये सदा
    न जाये ये व्यथा ......

    उत्तर देंहटाएं
  17. सुन्दर रचना...

    हिन्दी दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ.

    उत्तर देंहटाएं
  18. बहुत बढ़िया.... सुंदर अभिव्यक्ति....

    उत्तर देंहटाएं
  19. सब लकीर के फ़कीर ... बढ़िया है.हार्दिक शुभकामनाएँ |

    उत्तर देंहटाएं
  20. ये किस बात का रोना है। जबकि हम रोज हिन्‍दी में गाते हैं, बतियाते हैं, पढ़ते हैं,लिखते हैं,झगड़ते हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  21. sada ji
    maff kariyega main roman mmme aapko tippni likh rahi hun karn ye hai ki mera hindi writer achanak hi pata nahi kyon kaam nhi kar raha hai.
    bahut hi sachchi aur hari baat lihki hai aapne
    ati sundar
    poonam

    उत्तर देंहटाएं
  22. संरचनात्मक कार्यक्रम की ओर भी ध्यान दिलाया जाना चाहिए।

    उत्तर देंहटाएं
  23. अब हिंदी बेबस नहीं सर चडके बोल रही है , झंकार सुने और हर्षित हो

    उत्तर देंहटाएं

ब्लॉग आर्काइव

मेरे बारे में

मेरी फ़ोटो
मन को छू लें वो शब्‍द अच्‍छे लगते हैं, उन शब्‍दों के भाव जोड़ देते हैं अंजान होने के बाद भी एक दूसरे को सदा के लिए .....