बुधवार, 23 अप्रैल 2014

दूर करते हैं उदासियां !!!!


मेरी डायरी में
कुछ पन्‍ने हैं उदासियों के
सच कहूँ
तुम और तुम्‍हारा जि़क्र
ज़हां नहीं होता
वहाँ उदासियां
बिन बुलाये आ जाती हैं
इन उदासियों को
जब भी हटाना होता है
ज़रूरत होती है
मुझे तुम्‍हारे साथ की !
...
तुम जब भी साझा करते हो
एक मुस्‍कान :)
ये उदास पन्‍ने
मुस्‍कराने लगते हैं :) :) :)
तो फिर आओ साझा करते हैं
एक मुस्‍कान
और दूर करते हैं
उदासियां इन पन्‍नों की !!!!
....


ब्लॉग संग्रह

मेरे बारे में

मेरी फ़ोटो
मन को छू लें वो शब्‍द अच्‍छे लगते हैं, उन शब्‍दों के भाव जोड़ देते हैं अंजान होने के बाद भी एक दूसरे को सदा के लिए .....