मंगलवार, 29 सितंबर 2009

मनाने की जिद लिये ...

उसका दर्द बन गया है अब दवा देखो,

हर पत्‍ता है खामोश कहां है हवा देखो ।

तुम मनाने की जिद लिये बैठे हो वहां,

कह रहा है दिल कौन है हमनवा देखो ।

तुझसे दूर होकर खुद से बिछड़ गया हूं,

उड़ी-उड़ी सी चेहरे की रंगत हमनवा देखो ।

छूटता हांथ से हांथ तो आंखे बात करती,

कब होगी अगली मुलाकात हमनवा देखो ।

धड़कनें चल रही है तो लोग कहते हैं जिंदा,

वर्ना बुत की मानिन्‍द हो गया हमनवा देखो ।

9 टिप्‍पणियां:

  1. छूटता हांथ से हांथ तो आंखे बात करती,
    धड़कनें चल रही है तो लोग कहते हैं जिंदा,
    वर्ना बुत की मानिन्‍द हो गया हमनवा देखो ।
    हाथ से हाथ ना छूटे ...आँखे बात करती रहें ..
    शुभकामनायें..!!

    उत्तर देंहटाएं
  2. एक बहुत ही सुन्दर एहसास से रची रचना..............बहुत बहुत आभारी.......

    उत्तर देंहटाएं
  3. एहसास को जबरदस्त शब्दों में रच कर बढ़िया श्रंगार किया है.

    हार्दिक बधाई.

    चन्द्र मोहन गुप्त
    जयपुर
    www.cmgupta.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  4. धड़कनें चल रही है तो लोग कहते हैं जिंदा,
    वर्ना बुत की मानिन्‍द हो गया हमनवा देखो ।

    बहुत सुन्दर अभिव्यक्ति. बधई.

    उत्तर देंहटाएं
  5. क्या बात है..एक खूबसूरत रवानी है रचना मे..और गुनगुनाने लायक माधुर्य..बेहतरीन.

    उत्तर देंहटाएं
  6. धड़कनें चल रही है तो लोग कहते हैं जिंदा,
    वर्ना बुत की मानिन्‍द हो गया हमनवा देखो .......

    lajawaab hai aapki rachna ... gahre ehsas hein isme ...

    उत्तर देंहटाएं
  7. baht hi laajaawab rachna.........

    तुझसे दूर होकर खुद से बिछड़ गया हूं,

    उड़ी-उड़ी सी चेहरे की रंगत हमनवा देखो

    yeh line bahut achchi lagi...........


    maine bhi ek kavita likhi bahut dinon ke baad............ dekhiyega....

    http://lekhnee.blogspot.com/2009/09/blog-post_30.html

    तो क्यूँ ना माँगूं आसमाँ यहाँ??

    उत्तर देंहटाएं
  8. धड़कनें चल रही है तो लोग कहते हैं जिंदा,
    वर्ना बुत की मानिन्‍द हो गया हमनवा देखो ।

    अच्छी रचना है
    dil की गहरायों से निकली हुई
    सुन्दर भावनाएं

    उत्तर देंहटाएं

ब्लॉग आर्काइव

मेरे बारे में

मेरी फ़ोटो
मन को छू लें वो शब्‍द अच्‍छे लगते हैं, उन शब्‍दों के भाव जोड़ देते हैं अंजान होने के बाद भी एक दूसरे को सदा के लिए .....