बुधवार, 3 सितंबर 2014

स्‍वाद इस 'मैं' का !!!!

मैं हर पल साथ रहता है
जीवन के सफ़र में
उसकी जब़ान को
पता होता है
स्‍वाद इस 'मैं' का
जहाँ सब साथ छोड़ देते हैं
वहाँ भी ये गीत
गुनगुना लेता है खुशियों के !
.... 
मैं चलता रहता है
अपनी धुन में मस्‍त मगन
मुश्किल रास्‍तों पर भी
अल्‍हड़ता के साथ
रिश्‍तों के बनावटीपन से परे
अपने स्‍व के साथ
जीता है बड़ी बेबाकी से
सीखते हुए नित नया
सबक जिंदगी का जिंदगी से !!
...
‘मैं’ का रहस्‍य हमेशा
क़ायम रहता है
‘मैं’ के साये में
तपती धूप में कई बार
देखा है मैंने
इसे खुद का ही
आसमान बनते हुये !!!

21 टिप्‍पणियां:

  1. मैं का साथ अकेला चलने , सुखी रहने में भी मददगार है। एक सकारात्मक पक्ष मैं का अहम ब्रह्मास्मि जैसा !

    उत्तर देंहटाएं
  2. मैं जब तक दूसरों से न टकराए अच्छा होता है ... साथ देता है ... गहरी बात कह दी आपने ...

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत सुंदरता से... मै की कहानी कह दी है आपने.....,

    उत्तर देंहटाएं
  4. आपकी इस प्रस्तुति का लिंक 04-09-2014 को चर्चा मंच पर चर्चा - 1726 में दिया गया है
    आभार

    उत्तर देंहटाएं
  5. मैं -अहम -अहंकार से दूर रहना ही उत्तम है किन्तु मैं --अहम् ब्रह्मा अस्मि---आत्मा स्वरुप हूँ कल्याणकारी हूँ ...यही भावना साथ रहे तो अच्छा !
    गुस्सा
    गणपति वन्दना (चोका )

    उत्तर देंहटाएं

  6. 'मैं' एक रहस्य
    'मैं' ही खुली किताब
    'मैं' को जानना ही अहम है
    'मैं' को जब तक नहीं जाना
    भटकना है
    जानते ही अपनी धरती
    अपना आसमान होना है

    उत्तर देंहटाएं
  7. ‘मैं’ का रहस्‍य हमेशा
    क़ायम रहता है
    ‘मैं’ के साये में
    तपती धूप में कई बार
    देखा है मैंने
    इसे खुद का ही
    आसमान बनते हुये !!!

    वाकई मैं में ऐसा क्या रहस्य है कि इसे समझने में पूरा जीवन
    खप जाता है ---
    अनकहे सच को उजागर करती अदभुत रचना
    बहुत सुन्दर
    उत्कृष्ट प्रस्तुति
    सादर ---

    आग्रह है --
    भीतर ही भीतर -------

    उत्तर देंहटाएं
  8. ‘मैं’ के साये में
    तपती धूप में कई बार
    देखा है मैंने
    इसे खुद का ही
    आसमान बनते हुये !!!
    ...बिल्कुल सच...अहम् रहित, सात्विक 'मैं' ही जीवन का सबसे सफल मार्ग दर्शक है...बहुत उत्कृष्ट प्रस्तुति...

    उत्तर देंहटाएं
  9. बहुत ही सुंदर !
    Information and solutions in Hindi ( हिंदी में समस्त प्रकार की जानकारियाँ )
    आपकी इस रचना का लिंक दिनांकः 5 . 9 . 2014 दिन शुक्रवार को I.A.S.I.H पोस्ट्स न्यूज़ पर दिया गया है , कृपया पधारें धन्यवाद !

    उत्तर देंहटाएं
  10. 'मैं' का खूबसूरत रूप मन को मोहता है...

    उत्तर देंहटाएं

ब्लॉग आर्काइव

मेरे बारे में

मेरी फ़ोटो
मन को छू लें वो शब्‍द अच्‍छे लगते हैं, उन शब्‍दों के भाव जोड़ देते हैं अंजान होने के बाद भी एक दूसरे को सदा के लिए .....