मंगलवार, 28 मई 2013

धड़कनों को जिंदा रखना है तो !!!!

कोई दर्द की बात करता है तो वो मुस्‍करा देता है
ये भी एक दिन अपने साथ जीना सिखा देता है ।

रास्‍तो पे उसने रखीं थी निशानियां तेरे वास्‍ते ही,
जो भी पूछ़ता वो तेरे जाने का सबब बता देता है ।

अहम टूटकर बिखरा तो वफ़ा खुलकर मुस्‍कराई,
ये प्रेम ही है वो जो सच का आईना दिखा देता है ।

धड़कनों को जिंदा रखना है तो पहन  हँसी का जेवर,
ये वही है जो मुश्किल दौर में भी जीना सिखा देता है ।

दिल की तंग गली में कब मेले लगे खुशियों के सोच,
जीना तो है उसी का जो गम में भी सदा मुस्‍करा देता है ।

34 टिप्‍पणियां:

  1. धड़कनों को जिंदा रखना है तो पहन हँसी का जेवर,
    ये वही है जो मुश्किल दौर में भी जीना सिखा देता है ।

    दिल की तंग गली में कब मेले लगे खुशियों के सोच,
    जीना तो है उसी का जो गम में भी सदा मुस्‍करा देता है ।

    सदा जी बेहद खूबसूरत पंक्तियाँ सीधे दिल में उतर गयी .... बधाई ऐसे ही अच्छा अच्छा लिखते रहिये ....

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि आपकी इस प्रविष्टि की चर्चा कल बुधवार (29-05-2013) के सभी के अपने अपने रंग रूमानियत के संग ......! चर्चा मंच अंक-1259 पर भी होगी!
      सादर...!

      हटाएं
  2. बहुत ही खूबसूरत और लाजवाब.

    रामराम.

    उत्तर देंहटाएं
  3. ये वही है जो मुश्किल दौर में भी जीना सिखा देता है.....बधाई

    उत्तर देंहटाएं
  4. धड़कनों को जिंदा रखना है तो पहन हँसी का जेवर,
    ये वही है जो मुश्किल दौर में भी जीना सिखा देता है ।

    क्या कहने
    बहुत सुंदर

    उत्तर देंहटाएं
  5. सच है ...
    बधाई सुंदर रचना के लिए !!

    उत्तर देंहटाएं
  6. ये वही है जो मुश्किल दौर में भी जीना सिखा देता है ।

    जीना तो इस रचना ने भी सिखा दिया.आभार

    उत्तर देंहटाएं
  7. ये प्रेम ही है वो जो सच का आईना दिखा देता है ....

    bahut sundar rachna sada ji ...


    www.manukavya.wordpress.com

    उत्तर देंहटाएं
  8. वाह: बहुत ही लाजवाब रचना...आभार

    उत्तर देंहटाएं
  9. उम्दा ग़ज़ल........आखिरी शेर सबसे उम्दा।

    उत्तर देंहटाएं
  10. उम्दा ग़ज़ल........आखिरी शेर सबसे उम्दा।

    उत्तर देंहटाएं
  11. अहम टूटकर बिखरा तो वफ़ा खुलकर मुस्‍कराई,
    ये प्रेम ही है वो जो सच का आईना दिखा देता है ..

    बहुत खूब ... प्रेम सब कुछ करवा देता है ... बस अहम् की कोई जगह नहीं इस प्रेम की दुनिया में ... लाजवाब शेर ...

    उत्तर देंहटाएं
  12. बहुत सुन्‍दर और सार्थक रचना आभार
    हिन्‍दी तकनीकी क्षेत्र की अचंम्भित करने वाली जानकारियॉ प्राप्‍त करने के लिये एक बार अवश्‍य पधारें
    टिप्‍पणी के रूप में मार्गदर्शन प्रदान करने के साथ साथ पर अनुसरण कर अनुग्रहित करें MY BIG GUIDE

    शीर्ष पोस्‍ट
    गूगल आर्ट से कीजिये व्‍हाइट हाउस की सैर
    अपनी इन्‍टरनेट स्‍पीड को कीजिये 100 गुना गूगल फाइबर से
    मोबाइल नम्‍बर की पूरी जानकारी केवल 1 सेकेण्‍ड में
    ऑनलाइन हिन्‍दी टाइप सीखें
    इन्‍टरनेट से कमाई कैसे करें
    इन्‍टरनेट की स्‍पीड 10 गुना तक बढाइये
    गूगल के कुछ लाजबाब सीक्रेट
    गूगल ग्‍लास बनायेगा आपको सुपर स्‍मार्ट

    उत्तर देंहटाएं

  13. दिल की तंग गली में कब मेले लगे खुशियों के सोच,
    जीना तो है उसी का जो गम में भी सदा मुस्‍करा देता है ।

    bahut sundar rachna sada ji !

    kunwar ji,

    उत्तर देंहटाएं
  14. बहुत ही बेहतरीन लाजबाब ग़ज़ल की प्रस्तुति,आभार.

    उत्तर देंहटाएं
  15. दिल की तंग गली में कब मेले लगे खुशियों के सोच,
    जीना तो है उसी का जो गम में भी सदा मुस्‍करा देता ………बहुत सुन्दर गज़ल

    उत्तर देंहटाएं
  16. धड़कनों को जिंदा रखना है तो पहन हँसी का जेवर,
    ये वही है जो मुश्किल दौर में भी जीना सिखा देता है ।
    Mano ye baat aapne mere liye kahi ho!

    उत्तर देंहटाएं
  17. अहम टूटकर बिखरा तो वफ़ा खुलकर मुस्‍कराई,
    ये प्रेम ही है वो जो सच का आईना दिखा देता है ।

    क्या बात है,,,बहुत सुंदर गजल ,,,

    RECENT POST : बेटियाँ,

    उत्तर देंहटाएं
  18. बहुत खुबसूरत,और लाज़वाब....हर शे'र बेमिसाल है .....
    अहम टूटकर बिखरा तो वफ़ा खुलकर मुस्‍कराई,
    ये प्रेम ही है वो जो सच का आईना दिखा देता है
    मुबारक कबूलें !

    उत्तर देंहटाएं
  19. धड़कनों को जिंदा रखना है तो पहन हँसी का जेवर,
    ये वही है जो मुश्किल दौर में भी जीना सिखा देता है ।-----

    वाकई अगर मन में जीने की चाह है,हंसने की ललक है तो
    हर तरह के संघर्षों से विजय प्राप्त की जा सकती है ---
    सार्थक सन्देश देती अनुभूति
    बहुत सुंदर
    सादर


    तपती गरमी जेठ मास में---
    http://jyoti-khare.blogspot.in

    उत्तर देंहटाएं
  20. अहम टूटकर बिखरा तो वफ़ा खुलकर मुस्‍कराई,
    ये प्रेम ही है वो जो सच का आईना दिखा देता है ।

    bahut khoob

    उत्तर देंहटाएं
  21. अहम टूटकर बिखरा तो वफ़ा खुलकर मुस्‍कराई,
    ये प्रेम ही है वो जो सच का आईना दिखा देता है ।

    धड़कनों को जिंदा रखना है तो पहन हँसी का जेवर,
    ये वही है जो मुश्किल दौर में भी जीना सिखा देता है ।

    बहुत खूबसूरत गज़ल.....

    उत्तर देंहटाएं
  22. सचमुच प्रेम बहुत शक्तिशाली है!

    उत्तर देंहटाएं
  23. जीवन का मूल-मंत्र सिखाती हुई सार्थक पंक्तियाँ

    धड़कनों को जिंदा रखना है तो पहन हँसी का जेवर,
    ये वही है जो मुश्किल दौर में भी जीना सिखा देता है ।

    उत्तर देंहटाएं
  24. अहम टूटकर बिखरा तो वफ़ा खुलकर मुस्‍कराई,
    ये प्रेम ही है वो जो सच का आईना दिखा देता है ।

    खूबसूरत पंक्तियाँ.

    उत्तर देंहटाएं
  25. धड़कनों को जिंदा रखना है तो पहन हँसी का जेवर,
    ये वही है जो मुश्किल दौर में भी जीना सिखा देता है

    ye jewar kahan mil pata .. jaldi :)
    behtareen

    उत्तर देंहटाएं
  26. अहम टूटकर बिखरा तो वफ़ा खुलकर मुस्‍कराई,
    ये प्रेम ही है वो जो सच का आईना दिखा देता है । excellent ....

    उत्तर देंहटाएं
  27. धड़कनों को जिंदा रखना है तो पहन हँसी का जेवर,
    ये वही है जो मुश्किल दौर में भी जीना सिखा देता है ।
    ........प्रेम बहुत शक्तिशाली है!

    उत्तर देंहटाएं

ब्लॉग आर्काइव

मेरे बारे में

मेरी फ़ोटो
मन को छू लें वो शब्‍द अच्‍छे लगते हैं, उन शब्‍दों के भाव जोड़ देते हैं अंजान होने के बाद भी एक दूसरे को सदा के लिए .....