बुधवार, 22 जून 2011

पाकर इक मुस्‍कान ...











मेरा रूठना जाने क्‍यों तुमसे अक्‍सर हो ही जाता है,
रूठा ये दिल तुमसे जाने कितना कुछ कह जाता है ।

बदलती हवाओं सा यह भी ये आया वो गया हुआ,
पाकर इक मुस्‍कान तुम्‍हारी ये गुम सा हो जाता है ।

ढूंढती मैं बहाने तुमसे न मिलने के क्‍या करती जब,
अश्‍कों की कुछ बूंदो के संग सारे शिकवे ये कर जाता है ।

धड़कनों को पता है तेरे दिल में धड़कता है दिल मेरा,
मेरे वादे, मेरी कसमों का असर तुझ पर हो जाता है ।

उलझन मेरी सुलझाने के लिये तुमने सारे जतन किये,
मुहब्‍बत का मुहब्‍बत पे यकीं करना मुश्किल हो जाता है ।

मेरा इंतजार तुम मुझसे छिप कर करते हो अक्‍सर क्‍यूं,
कहो तो प्‍यार जताने से क्‍या इसका असर कम हो जाता है ।

31 टिप्‍पणियां:

  1. सुंदर पंक्तियाँ जो उलझे मन को सुलझाने के लिए प्रश्न करती चलती हैं.

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत सुन्दर भाव्।
    आपकी रचना यहां भ्रमण पर है आप भी घूमते हुए आइये स्‍वागत है
    http://tetalaa.blogspot.com/

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत बहुत सुन्दर भावों से सजी रचना जो दिल को छु गयी

    उत्तर देंहटाएं
  4. बहुत सुन्दर भावमयी रचना....

    उत्तर देंहटाएं
  5. प्यार जता देने से असर कम हो जाता है, सुन्दर अवलोकन।

    उत्तर देंहटाएं
  6. भावों की सुंदर अभिव्यक्ति

    उत्तर देंहटाएं
  7. बहुत बेहतरीन....भावपूर्ण...

    उत्तर देंहटाएं
  8. मेरा इंतजार तुम मुझसे छिप कर करते हो अक्‍सर क्‍यूं,
    कहो तो प्‍यार जताने से क्‍या इसका असर कम हो जाता है ।

    बहुत खूब .....

    उत्तर देंहटाएं
  9. बहुत सुन्दर और सशक्त ग़जल|

    उत्तर देंहटाएं
  10. बहुत बहुत सुन्दर
    यही विशे्षता तो आपकी अलग से पहचान बनाती है!

    उत्तर देंहटाएं
  11. वाह वाह बहुत सुंदर अहसास मुबारक हो

    उत्तर देंहटाएं
  12. मेरा इंतजार तुम मुझसे छिप कर करते हो अक्‍सर क्‍यूं,
    कहो तो प्‍यार जताने से क्‍या इसका असर कम हो जाता है ।
    Shayad.
    Sunder bhaw ,sunder rachna.

    उत्तर देंहटाएं
  13. मेरा इंतजार तुम मुझसे छिप कर करते हो अक्‍सर क्‍यूं,
    चलो इंतजार तो है. ;

    उत्तर देंहटाएं
  14. सुंदर भावों को खूबसूरत शब्द मिले

    उत्तर देंहटाएं
  15. वाह ..बहुत खूब कहा है आपने ।

    उत्तर देंहटाएं
  16. sada ji
    bahut hi behtreen lagi aapki gazal .
    har pankti apne aap ko baha le jaati hai .kiski tarrif karun -----
    yun chhup chhup kar intajaar karvaane ka bhi apna ek alag sa andaz hota hai.
    badhai sahit
    poonam

    उत्तर देंहटाएं
  17. मन की उलझनों की बहुत सुन्दर भावपूर्ण प्रस्तुति...बेहतरीन रचना

    उत्तर देंहटाएं
  18. bahut sundar kavita sada ji...kuch panktiyan to seedhe dil pe var karti hai...vadhayi..

    उत्तर देंहटाएं
  19. उलझन मेरी सुलझाने के लिए तुमने सारे जतन किये
    मुहोबत का मुहोबत प यकीं करना मुश्किल हो जाता है

    मन पे असर करने वाली
    मासूम पंक्तियाँ ...
    बहुत सुन्दर रचना .

    उत्तर देंहटाएं
  20. "कहो तो प्‍यार जताने से क्‍या इसका असर कम हो जाता है"
    बेहद लाजवाब प्रस्तुति

    उत्तर देंहटाएं
  21. bahut sundar bhav is man mei
    ek pyari si gazal ke roop mei.....aabhar

    उत्तर देंहटाएं

ब्लॉग आर्काइव

मेरे बारे में

मेरी फ़ोटो
मन को छू लें वो शब्‍द अच्‍छे लगते हैं, उन शब्‍दों के भाव जोड़ देते हैं अंजान होने के बाद भी एक दूसरे को सदा के लिए .....