मंगलवार, 7 जून 2011

प्‍यार तो ....








किसी से प्‍यार करना,

फिर उसपर खुद से ज्‍यादा

ऐतबार करना

कैसे किसी के लिये

यूं बेकरार हो जाना

भरी महफि़ल में तन्‍हां हो जाना

कभी तसव्‍वुर... कभी इंतजार

कभी बेरूखी प्‍यार की

सब बातों से परे

हसरत बस एक दीदार की

शिकायतें हजार हों प्‍यार में

फिर भी जाने क्‍यों ..

औरों के मुंह से शिकायत सुनना

नहीं भाता है कभी उसके लिये

आप जिये जा रहो

जिसके बिन ...

या जिसके साथ ...जिसके लिये

प्‍यार तो बस प्‍यार है

इसपर किसी का

ना हुआ अख्तियार है

बारिश की बूंदो सा

प्‍यार का अहसास

जैसे बहती हो नदिया

हिमशिखरों के पास

प्‍यार के अंक में

गहराई है

धरती पे देखो

अम्‍बर का साया

सारी सृष्टि इसमें समाई है ...।

29 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत खुब....प्यार के एहसास को बखूबी चित्रित किया है।

    उत्तर देंहटाएं
  2. 'Love for the sake of love' का सुंदर वर्णन किया गया है. बहुत अच्छा लगा.

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत सुन्दर भावाव्यक्ति।

    उत्तर देंहटाएं
  4. किसी से प्‍यार करना,

    फिर उसपर खुद से ज्‍यादा

    ऐतबार करना

    कैसे किसी के लिये
    bahut sundar bhavon se bhari.

    उत्तर देंहटाएं
  5. sada ji aapke blog ko aaj ye blog achchha laga par bhi liya gaya hai.apni upasthiti se anugrahit karen

    उत्तर देंहटाएं
  6. ''ye blog achchha laga ''par aapke blog ka parichay padhkar yahan aayee hun .bahut sundar bhavon ko sameta hai aapne .aabhar .

    उत्तर देंहटाएं
  7. इसी को प्रेम की पराकाष्ठा कहते हैं ... प्रेम बस प्रेम और कुछ भी नही ...

    उत्तर देंहटाएं
  8. बहुत ही सुन्दर बात बहुत सुन्दर शब्दों में.....

    उत्तर देंहटाएं
  9. लाजवाब अभिव्यक्ति का अंदाज निराला है....

    उत्तर देंहटाएं
  10. बेहद सुन्दर अभिव्यक्ति

    उत्तर देंहटाएं
  11. किसी से प्‍यार करना,

    फिर उसपर खुद से ज्‍यादा

    ऐतबार करना.....

    Awesome !

    Great expression sada ji .

    .

    उत्तर देंहटाएं
  12. एहसास को आपने अच्छी तरह शब्दों में पिरोया है.

    उत्तर देंहटाएं
  13. बहुत खूबसूरती से लिखा है प्यार को ...

    उत्तर देंहटाएं
  14. ishk ne hame kahi ka na chhoda ,phir bhi hamne ishk ko kahan chhoda ,meri rachna ki hi panktiyaan yaad aa gayi inhe padhkar ,bahut badhiya ,yahi to pyaar hai

    उत्तर देंहटाएं
  15. प्यार एक खूबसूरत एहसास है। सुन्दर पँक्तियाँ।

    उत्तर देंहटाएं
  16. pyar se bhari...pyari kavita
    bahut khub pyar ke ye rachna

    उत्तर देंहटाएं
  17. भीगी-भीगी सी प्यारी रचना...

    उत्तर देंहटाएं
  18. प्रेमरस में सराबोर ...प्यार के अथाह सागर में रसास्नात कराती सुन्दर रचना...

    उत्तर देंहटाएं
  19. वाह ... बहुत खूब अभिव्‍यक्ति

    उत्तर देंहटाएं
  20. सुन्दर और प्रभावशाली अभिव्यक्ति. प्रेम तो शाश्वत है .

    उत्तर देंहटाएं
  21. सुंदर अभिव्यक्ति बधाई

    उत्तर देंहटाएं

ब्लॉग आर्काइव

मेरे बारे में

मेरी फ़ोटो
मन को छू लें वो शब्‍द अच्‍छे लगते हैं, उन शब्‍दों के भाव जोड़ देते हैं अंजान होने के बाद भी एक दूसरे को सदा के लिए .....