मंगलवार, 5 जून 2018

श्रृंगार धरती का !!!!

हरियाली ये
श्रृंगार धरती का
उजाड़ो मत !
....
हैं वरदान
धरा में पेड़ पौधे
बचा लो इन्हें !
...
बो देना बीज
धरा की गोद सूनी
प्रकृति कहे !
....
खुद तपते
शीतल छाँव देते
हमें वृक्ष ये!
...
कड़वी नीम
मीठी निम्बोली देती
शीतल छाँव !
....
कुल्हाड़ी मार
गिराया जो पेड़ को
चीखी थीं जड़ें !
...

4 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत सुंदर हायकु..👌👌👌

    उत्तर देंहटाएं
  2. कुल्हाड़ी मार गिराया जो
    पेड़ को चीखी थीं जड़ें !
    ...पर्यावरण पर बहुत सुंदर हायकु !

    उत्तर देंहटाएं
  3. आभार आप सभी का .... सादर

    उत्तर देंहटाएं

ब्लॉग आर्काइव

मेरे बारे में

मेरी फ़ोटो
मन को छू लें वो शब्‍द अच्‍छे लगते हैं, उन शब्‍दों के भाव जोड़ देते हैं अंजान होने के बाद भी एक दूसरे को सदा के लिए .....